10-Sep-2009

Lyrics kyun keeda hai - Quick gun Murugan

बक बक है आपकी सुनली, किस खेत की आप हैं मुली, टेढ़े सवालों के हैं टेढ़े जवाब | मिया न बीवी राज़ी, फिर भी लगे हैं काजी, इतने असमंजस मे हैं क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब |..... होना है जो उसको होने जी होने दे, रोते हैं जो उनको जी रोने दे, ऊँगली करते क्यूँ हर जगह, क्यूँ विचलित हैं क्यूँ खफा, क्यूँ कीडा है आपको, क्यूँ पीडा है खाम-खा, क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब |..... जिसको जो कहना है कहने दे, कुत्ते की दुम है टेढी रहने दे काम से काम अपना बस रखे, ऊँगली करते क्यूँ हर जगह, क्यूँ चिंतित हैं बेवजह, क्यूँ कीडा है आपको, क्यूँ पीडा है खाम-खा, क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब क्यूँ जनाब| |..... असंतुलित संगत है, पीडा के आप चुम्बक हैं, छोडे अपना चिरकुट धर्म, त्यागे ये सब कार्यकर्म, असमंजस है आपका कुछ, करम करें न सोचे कुछ, गुठली छोडे खाएं आम आपसे मेरी त्राहि माम |




"कर्मभूमि मेरा आँगन, terrice मेरा नील गगन, ये पूरा दुनिया मेरा वतन... my name is murugan, Quick gun murugan... MIND it!"


To be contd...

No comments:

Post a Comment